Banner

#

पोत निर्माण क्षेत्र में विश्व में अग्रणी बनना

 

#
  • डिजाइन सक्षमता में आत्मनिर्भर बनना और स्टेट–ऑफ-द-आर्ट निर्माण प्रक्रिया स्थापित करना ।
  • प्रतियोगी मूल्यों पर गुणवत्ता वाले युद्धपोत का निर्माण करना और समय पर सुपुर्दगी तथा उत्पाद सहयोग द्वारा ग्राहकों की आकांक्षा से अधिक की पूर्ति ।
  • ग्राहक संतुष्टि, उत्पाद नवीकरण, निर्यात संभावना पर पकड़ और कर्मचारी संतुष्टि के माध्यम से सतत विकास करना ।

 

#

जीआरएसई द्वारा मूल्यों का एक सुसंगत ढांचा मानक के रूप में अपनाया और विकसित किया गया है ताकि सभी परिस्थितियों में प्राथमिकता पर संगठनात्मक व्यवहार का मार्गदर्शन किया जाए ।

  • निष्पक्षता
    जीआरएसई इस बात पर ध्यान देती है कि वेंडरों, स्वतंत्र ठेकेदारों, व्यवसाय साझेदारों तथा ग्राहकों को अपने साथ बार बार व्यापार करने हेतु प्रोत्साहित करते हुए निष्पक्ष व्यापार हेतु अपनी मजबूत प्रतिष्ठा का निर्माण करे । कंपनी संगठन के भीतर और बाहर अपने सभी लेन देन में पूर्ण पारदर्शिता लाने के मार्ग पर दृढ़ता से चल रही है ।
  •  उदारता  
    उदारता का सिद्धान्त है कि संगठन के प्रत्येक सदस्य का कंपनी की सफलता में हिस्सा होना चाहिए । पुरस्कार और सम्मान जीवन का तरीका बन रहे हैं, अत: कर्मचारियों का प्रोत्साहन, निष्ठा बढ़ने से उच्च उत्पादकता होती है ।

  • उत्कृष्टता का लक्ष्य   
    कंपनी की इच्छा अपनी अतीत की उपलब्धियों में रहने की नहीं है, अपितु यह अनवरत रूप से बेहतर उत्पाद और सेवाएँ विकसित करने, लगातार ग्राहक संतुष्टि में सुधार लाने, प्रचालनात्मक कुशलता तथा संगठन में प्रत्येक की उत्पादकता को उन्नत करने का प्रयास करेगी । इस मूल्य पर जोर दिया जाना आंशिक रूप से व्यापार की प्रतिस्पर्धात्मक प्रकृति से प्रेरित है, जिसके विषय में निकट भविष्य में सोचा जा रहा है ।

  • समुदायिक भागीदारी
    जीआरएसई की योजना अपने प्रचालन क्षेत्र के समुदाय के जीवन की गुणवत्ता अथवा कुल मिलाकर समाज में सुधार लाने के लिए सक्रिय भागेदारी को जारी रखने की है ।

  • नवीनता            
    व्यापार प्रवर्तक लगातार ग्राहकों की उभरती हुई जरूरतों को देख रहे हैं और उन जरूरतों को पूरा करने के लिए सर्वोत्तम   समाधान डिजाइन कर रहे हैं । नवीनता किसी कंपनी को अपने ग्राहकों के लिए जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने की   अनुमति देती है । निरंतर नवीनता को एक कोर मूल्य बनाने से निगमों को बढ़ती प्रतिस्पर्धा का सामना कर विकसित होने में मदद मिलती है क्योंकि वे प्रतियोगियों से पहले ही उभरते अवसरों का लाभ उठाते हैं । जीआरएसई की अपनी वर्तमान और भविष्य की कार्य योजना में इस मूल्य प्रणाली को दृढ़ता से आत्मसात करने की योजना है ।

  • कर्मचारियों के कल्याण की चिंता  
    कर्मचारी अपने कैरियर को वेतन कमाने के एक साधन से अधिक के रूप में देखते हैं । वे ऐसी कंपनी में कार्य करना चाहते हैं जो सही मायने में उनके बारे में परवाह करती है । कर्मचारी चाहते हैं कि सुपरवाइज़र उनके विचारों और चिंताओं को सुने । वे अपने लिए कैरियर मार्ग चाहते हैं, एक ऐसा मार्ग जिसमे वे लगातार सीख सकें, नया कौशल हासिल कर सकें और संगठन के भीतर आगे बढ़ सकें । किसी संगठन के सभी स्तरों के प्रबन्धक चाहते हैं कि प्रौद्योगिकी, मानव संसाधन और धन सहित उनकी जरूरत के संसाधनों की आपूर्ति की जाए ताकि अपने नियत लक्ष्यों को पूरा कर सकें । जीआरएसई की योजना भविष्य में इस मूल्य प्रणाली को साथ ले कर चलने की है ।

 

#

  • आत्मनिर्भर डिज़ाइन हाउस स्थापित करना ।
  • उत्पादकता में सुधार ।
  • गुणवत्ता में सुधार ।
  • पोत प्रभाग के लिए क्यूएमएस एवं आईएसओ 9001 प्रमाणीकरण ।
  • व्यवसाय उद्यम एवं लाभ केंद्र के रूप में पोत मरम्मत ।
  • संगठित विपणन प्रयासों के माध्यम से व्यवसाय विकास ।
  • डेक मशीनरी मदों, पोर्टेबल स्टील ब्रिजों और डीजल इंजनों की मार्केटिंग ।
  • विक्रेता विकास एवं दीर्घ अवधि साझेदारी ।
  • जीआरएसई ब्रांड तैयार करना ।
  • मैटीरियल मैनेजमेंट / सप्लाई चेन मैनेजमेंट ।
  • मानव संसाधन विकास ।
  • सीएसआर एवं सस्टेनेबिलिटी।

#